सॉरी माफ़ी की शायरी – सॉरी पर शायरी – माफ़ी पर सुविचार

सॉरी माफ़ी की शायरी –  दोस्तों बार गुस्से या अनजाने में किसी अपने को कुछ कड़वे शब्द बोल देते है। जिस कारण वो व्यक्ति हमसे नाराज़ हो जाता है और हमसे बात नहीं करता, तब हमको अपनी गलती का एहसास होता है। बहुत से लोग अचानक से सामने जाकर Sorry बोल देते है, लेकिन ऐसे सॉरी कहने से व्यक्ति हमे माफ़ नहीं करता। इसलिए आज की इस पोस्ट में हमने आपके लिए तैयार किया है  Sorry SMS In Hindi, Sorry Quotes In Hindi, Sorry Status In Hindi, Sorry Shayari In Hindi का बेहतरीन संग्रह (कलेक्शन) हम उम्मीद करते है की ये शायरियाँ आपको पसंद आएगी।

अगर आप इंटरनेट पर माफ़ी की शायरी, सॉरी पर शायरी, सॉरी शायरी फॉर लव, माफ़ कर दो शायरी, गलती का एहसास दिलाने वाली शायरी, 2 Line Sorry Status In Hindi, Sorry Image Shayari, Best Sorry Status In Hindi, Sorry Message In Hindi, Sorry Shayari in Hindi For Best Friends, गलती शायरी इन हिन्दी इन सबसे सम्बंधित शायरियां या सन्देश की खोज कर रहे थे। तो आपकी खोज अब ख़त्म होती है क्योकि इस पोस्ट में आपको पढ़ने को मिलेगा Sorry Shayari In Hindi For Girlfriend, माफ़ कर दो शायरी जिसको आप नाराज़ व्यक्ति को भेजकर उसको मना सकते है उससे माफ़ी मांग सकते है, तो चलिए शुरू करते है।

Also Read :-

2 Line Sorry Shayari In Hindi

ले चला जान मेरी रूठ के जाना तेरा,
ऐसे आने से तो बहेतर था न आना तेरा।
देखा है आज मुझे भी गुस्से की नज़र से,
मालूम नहीं आज वो किस–किस से लड़े है।
इश्क की नगरी में माफ़ी नहीं किसी को भी,
इश्क उमर नहीं देखता बस उजाड़ देता है।
अहंकार दिखाके किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है,
कि माफ़ी मांगकर वो रिश्ता निभाया जाये।
रूठ कर कुछ और भी #हसीन लगते हो,
बस यही सोच कर तुम को खफा रखा है।
हो गई हो भूल तो दिल से माफ कर देना,
सुना है सोने के बाद हर किसी की सुबह नही होती।

सॉरी माफ़ी की शायरी

गलती तो हो गयी है,
अब क्या मार डालोगे,
माफ़ भी कर दो ऐ सनम,
ये गलफहमी कब तक पालोगे।
तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी,
क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,
जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।
हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।
जान है मुझे ज़िन्दगी से प्यारी,
जान के लिए कर दूँ कुर्बान कुछ भी,
#जान के लिए तोड़ दूँ यारी तुम्हारी,
अब तो मान जाओ मनाने से,
क्यूंकि तुम ही हो जान हमारी।
दुश्मनों में भी दोस्त मिला करते हैं,
सॉरी बोलने वाले को माफ़ कर दिया करते हैं,
हमको कांटा समझ कर छोड़ न देना,
कांटे ही फूलो की हिफाजत किया करते हैं।
हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।

माफी मांगने के लिए शायरी

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।
रिश्तों में दूरियां तो आती-जाती रहती हैं,
फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती है,
वो दोस्ती ही क्या जिसमे नाराजगी न हो,
पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना ही लेती है।
हर वक़्त तुमको याद करता हूँ,
हद से ज्यादा तुम्हे प्यार करता हूँ,
क्यों तुम मुझसे खफा बैठे हो,
मैं एक तुम्हीं पर तो मरता हूँ।
कोई गिला कोई शिकवा ना रहे आपसे,
यह आरजू है कि प्यार का सिलसिला रहे आपसे,
बस इस बात की बड़ी उम्मीद है आपसे,
खफा ना होना अगर हम खफा रहें आपसे।
रूठ कर हमसे यूँ दूर जा बैठे है कही,
उनकी यादे सता रही है हमे हर वक़्त यही,
कोई उनसे हमारी खता तो पूछ आये,
हम #सर झुकाए इंतज़ार में बैठे है यही।
होंटों से दुआ के लिए जसने नहीं होती,
अब इससे जायदा तेरी खुवासिश नहीं होती,
है प्यार का सहेर यहाँ बदल नहीं आती,
अगर बदल भी आ जाये तो बारिश नहीं होती।
दर्द किया होता है बतायेंगे एक रोज़,
प्यार की गजल सुनायेंगे किसी रोज़,
थी उनकी जिद की में जाऊ उनको मानाने,
मुजको ये वेहम था वो बुलायेंगे किसी रोज़।

सॉरी माफ़ी की शायरी

दोस्तों हमने ऊपर Shayari on Sorry In Hindi पढ़ी, नीचे हमने आपके लिए और भी शायरियो का संग्रह तैयार किया है जैसे माफ़ करना शायरी, Mafi Shayari In Hindi, Sorry Shayari Collection, मेरी गलती शायरी, पछतावा शायरी, गलती शायरी, माफ़ी मांगना और मनाना हिंदी शायरी, सॉरी की शायरी आदि। इनको आप फेसबुक व्हाट्सप्प पर शेयर करके अपनी गलती की माफ़ी मांग सकते हो। 

रिश्तों में दूरियां तो आती-जाती रहती हैं,
फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती है,
वो दोस्ती ही क्या जिसमे नाराजगी न हो,
पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना ही लेती है।
कोई गिला कोई शिकवा ना रहे आपसे,
यह आरजू है कि प्यार का सिलसिला रहे आपसे,
बस इस बात की बड़ी उम्मीद है आपसे,
खफा ना होना अगर हम खफा रहें आपसे।
एक ज़रा सी भूल खता बन गयी,
मेरी वफ़ा ही मेरी सजा बन गयी,
दिल लिया और खेल कर तोड़ दिया उसने,
हमारी जान गयी और उनकी अदा बन गयी।
अगर मै हद से गुज़र जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
तेरे दिल में उत्तर जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
रात में तुझे देख के तेरे दीदार के खातिर,
पल भर जो ठहर जाऊ तो मुझे माफ़ करना।
किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं,
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं,
गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या,
ज़माने वाले कोई खुदा तो नहीं।

सॉरी माफ़ी की शायरी

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से !!
सॉरी कहने का मतलब है,
कि आपके लिए दिल में प्यार है,
अब जल्दी से हमे माफ़ कर दो ऐ सनम,
सुना है आप बहुत समझदार हैं !!
दिल उदास है तेरे चले जाने से,
हो सके तो मुसाफिर लौट आ,
तेरे कदमो में सर झुकायें खड़े है हम,
तू बस एक बार सजा तो सुना जा।
 वो गुस्से में दूर से ही निहारा करते है,
क्या बात है जाने क्यों इतने खफा लगते हैं,
हो गयी हो अगर #कोई गलती हमसे,
माफ़ कर दो ना अपनी वफ़ा समझ के।
मेरे खुवाबों में वो तीर चला कर काली गई,
में सोया थ मुझ को जगह कर चली गई,
मैंने पूछा चाँद कैसे निकलता है,
वो अपने चहेरे से जुल्फें हटा कर चली गई।
कर देना माफ़ हम को दिल से,
अगर तोडा हो कभी दिल,
ज़िन्दगी किया भरोशा,
कल कफ़न में लिपटा मिले,
तुम को ये दोस्त तुम्हारा !!

Sorry Shayari in English Font

Ho Sakta hai Humne Aapko kabhi Rula Diya,
Aapne Duniya ke Kehne pe humein Bhula Diya,
Hum toh Waise bhi Akele the iss Duniya Mein,
Kya hua Agar Aapne ehsaas Dila Diya….
Tujhe Mein Bhul Jaata to Magar,
Tere Taalluk se Jo Chahre Samne Aaye,
Inhe Kaise Bhulata, Tujhe Kaise Bhulata….
Dil Se Teri Yaad Ko Juda Toh Nahi Kiya,
Rakha Jo Tujhe Yaad Kuchh Bura Toh Nahi Kiya,
Hum Se Tu Naraaj Hai Kis Liye Bata Jaraa,
Humne Kabhi Tujhe Khafa Toh Nahi Kiya….
Khata Ho Gaayi Toh Phir Sazaa Suna Do,
Dil Mein Itna Dard Kyun Hai Wajah Bata Do.
Der Ho Gayi Hai Yaad Karne Mein Zarur,
Lekin Tumko Bhula Denge Yeh Khayal Mita Do…
Tum Khafa Ho Gaye Toh Koyi Khushi Na Rahegi,
Tumhare Bina Chiraagon Mein Roshni Na Rahegi,
Kya Kahein Kya Gujregi Iss Dil Par,
Zinda Toh Rahenge Par Zindgi Na Rahegi….
Dil Se Teri Yaad Ko Juda Toh Nahi Kiya,
Rakha Jo Tujhe Yaad Kuchh Bura Toh Nahi Kiya,
Hum Se Tu Naraaj Hai Kis Liye Bata Jaraa,
Humne Kabhi Tujhe Khafa Toh Nahi Kiya….

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारी आज की सॉरी माफ़ी की शायरी – सॉरी पर शायरी – माफ़ी पर सुविचार ये पोस्ट पसंद आयी होगी। अगर हाँ, तो इसको शेयर करना न भूले और साथ ही साथ नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी।

Thank You…

Leave a Reply